Home जीवनमंत्र अंगूठी में छिपे सूत्र ने बदल दिया राजा का जीवन-जीवनमंत्र 24c

अंगूठी में छिपे सूत्र ने बदल दिया राजा का जीवन-जीवनमंत्र 24c

यह भी बीत जाएगा

कहते है एक बार एक राजा ने अपने विद्वानों से कहा कि वे कोई एक ऐसा छोटा सा सूत्र तैयार करें, जिसमें सभी शास्त्रों और ग्रंथों का निचोड़ हो। जो हर परिस्थिति में सही राह दिखाए। विद्वान मुश्किल में पड़ गए। कोई उपाय नहीं सूझा। आखिर एक गांव के पास ही रह रहे एक वृद्ध फकीर के पास गए और राजा के आदेशों के बारे में बताया।
फकीर राजा के पास आया और उसने अपनी अंगूठी राजा को दे दी। उसने कहा कि इस अगूंठी के नगीने के नीचे एक कागज का टुकड़ा रखा है और कागज पर एक सूत्र लिखा है। यह अगूंठी मुझे मेरे गुरु ने दी थी हालांकि मुझे कभी इस सूत्र की जरुरत नहीं पड़ी। याद रखना यह सूत्र केवल तभी पढऩा जब बाकी सब उपाय असफल हो जाएं। कोई अन्य उपाय ना रहे। राजा सहमत हो गया।
एक बार एक युद्ध में राजा पराजित हो गया। दुश्मन राजा के सैनिक उसके पीछे दौड़ रहे थे। वह पूरी ताकत से बचने के लिए अपना घोड़ा दौड़ा रहा था। संकट की इस घड़ी में अचानक उसे अंगूठी में छूपे सूत्र की याद आई। एक चट्टान के पीछे छूप कर उसने अंगूठी के नगीने के नीचे से कागज का टुकड़ा निकला।
उस पर लिखा था-यह समय भी बीत जाएगा।
हुआ भी ऐसा ही। दुश्मन के सैनिकों से राजा ओझल हो गया। दुश्मन के सैनिक किसी अन्य दिशा में चले गए। राजा ने फिर अपने सैनिकों को संगठित किया और हमला किया। राज हासिल कर लिया। लेकिन राजा इस बार अधिक धार्मिक और सदाचारी था। घमंडी नहीं था। कहता रहता-

समय एक जैसा नहीं रहता-वह नहीं रहा तो यह भी नहीं रहेगा-बीत जाएगा।

ओशो प्रवचन

आपका दिन शुभ हो!!!!!

ऐसे हर सुबह एक जीवनमंत्र पढने के लिए Download 24C News app:  https://play.google.com/store/apps/details?id=com.haryana.cnews

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

पत्नी ने पति पर लगाए गंभीर आरोप। घर से बरामद करवाई अवैध पिस्तौल

कहा घर आते ही करता था मारपीट महममहम चौबीसी के गांव मोखरा एक महिला ने अपने पति पर गंभीर...

महम के क्रांति चौक से बाइक चोरी

महम थाने में करवाया गया मामला दर्ज महममहम के क्रांति चौक पर स्थित सिवाच फोटो स्टेट के सामने से...

महाराजा अग्रसेन स्कूल महम में अग्रसेन जयंती पर हुआ समारोह

प्रतिमा पर माल्यापर्ण किया तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए महममहम के महाराजा अग्रसेन पब्लिक स्कूल में अग्रकुल के...

राजा दशरथ को श्रवण के माता-पिता से मिला पुत्र वियोग में मरने का श्राप, ऐतिहासिक पंचायती रामलीला का मंचन शुरु

आदर्श रामलीला भी सोमवार की रात्रि से हो रही है आरंभ महममहम में रामलीलाओं का मंचन आरंभ हो गया...

Recent Comments

error: Content is protected !!