Home अन्य धान की जगह बागवानी करेंगे तो मिलेगा ये सरकारी लाभ-जानिए

धान की जगह बागवानी करेंगे तो मिलेगा ये सरकारी लाभ-जानिए

सात हजार रूपए प्रति एकड़ सरकार देगी प्रोत्साहन राशि

बागवानी विभाग भी देगा अनुदान, बताया एसडीएम ने
महम

किसान धान की फसल के स्थान पर बागवानी करेंगे तो उन्हें सरकार द्वारा प्रोत्साहन राशि तथा बागवानी विभाग द्वारा अनुदान मिलेगा। एसडीएम मेजर गाय़त्री अहलावत ने किसानों को धान की स्थान पर बागवानी करने का आह्वान किया है। एसडीएम ने बताया कि यदि किसान
धान की जगह बागवानी फसल लगाएंगे तो सरकार द्वारा 7000 रुपये प्रति एकड़ प्रोत्साहन राशि दिए जाएंगे व बागवानी विभाग द्वारा अनुदान भी दिया जाएगा ।
उन्होंने बताया कि पोर्टल जल्दी ही खुल जायेगा। आप अपना ऑनलाइन पंजीकरण करवा लें। पंजीकरण करते समय जिस किल्ले में धान की जगह बागवानी फसल बोई है अपनी फरद के अनुसार सही किल्ला नंबर भरें। पंजीकरण उपरांत अपने पंजीकरण फार्म का प्रिंट लेकर पटवारी से तस्दीक करवाएं कि आपने पिछले साल खरीफ में धान लगाई थी। पटवारी किल्ला नंबर लिख कर तस्दीक करेगा कि इस व्यक्ति द्वारा इस किले में खरीफ 2020 में धान की काश्त की गई थी। पटवारी के हस्ताक्षर व मोहर लगवा कर उपमंडल काम्प्लेक्स सिथत बागवानी विभाग महम के कमरा नम्बर 103 में जमा करवा दें।
उद्यान विकास अधिकारी डॉ कमल सेनी ने बताया कि यदि आप द्वारा फॉर्म भरते समय कोई गलती हो जाती है तो आप इस योजना से वंचित रह सकते हैं। इसके साथ साथ आप द्वारा वही किल्ला उसी नाम से मेरी फसल मेरा ब्योरा पर भी पंजीकृत करवाना पड़ेगा। यदि आप ऐसा नहीं करते हैं तो भी आपको इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।(विज्ञप्ति)

आज की खबरें आज ही पढ़े
साथ ही जानें प्रतिदिन सामान्य ज्ञान के पांच नए प्रश्न तथा जीवनमंत्र की अतिसुंदर कहानी
डाउनलोड करें, 24c न्यूज ऐप, नीचे दिए लिंक से

Link: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.haryana.cnews

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

महंत सतीश दास के पास एकजुट हुए सैमाण तपा के ब्लाक समिति सदस्य

प्रस्तुत कर सकते हैं चेयरमैन का दावा बेडवा सहित कुल सात ब्लाक समिति सदस्य हैं सैमाण तपा ...

फरमाणा की 28 बेटियां खेल रही हैं राज्यस्तरीय वॉलीबाल प्रतियोगिता में

समाजसेवी महाबीर फरमाणा ने बांटे खिलाड़ियों को ट्रैकसूट हम, 30 नवंबर (इंदु दहिया)महम चौबीसी के गांव फरमाणा की 28...

बॉके बिहारी ऑयल मिल के मालिक की नहीं मिली कोई जानकारी

बैंक कर्मचरियों ने किया मिल का दौरा मजदूर करने लगे पलायनमहम, 30 नवंबर महम-भिवानी सड़क मार्ग पर बॉके बिहारी...

सन्नी सुसाइड केस-मुख्य आरोपी को हाईकोर्ट से मिली राहत, एसआईटी ने दर्ज किए बयान

एसआईटी ने किया महम का दौरा महम, 30 नवंबर सन्नी सुसाइड केस में मुख्य आरोपी कनिका गिरधर को राहत...

Recent Comments

error: Content is protected !!