Home ब्रेकिंग न्यूज़ फरमाणा में फिर से आरंभ हुआ ऐतिहासिक दंगल। गांव की पायल बनी...

फरमाणा में फिर से आरंभ हुआ ऐतिहासिक दंगल। गांव की पायल बनी श्रेष्ठ पहलवान

समाजसेवी महाबीर सहारण के सौजन्य से हुआ दंगल शुरु

महम
महम चौबीसी के फरमाणा गांव में गुगानवमीं के दिन होने वाला ऐतिहासिक कुश्ती दंगल कई वर्षों के बाद फिर से शुरु हुआ है। इस बार दंगल की ये खास बात ये रही है कि दंगल में लड़कियों के लिए भी अलग से कुश्ती दंगल हुआ। लड़कों और लड़कियों के दोनों ही वर्गों के विजेताओं को समान पुरस्कार राशि भी दी गई। प्राचीन दंगल के साथ बदलते समय में बेटियों के लिए भी होने वाला दंगल अपने आप में विशेष है। खास बात यह है कि यह दंगल गांव में हुए नामी पहलवानों को समर्पित किया गया है। इन पहलवानों के चित्र भी आयोजन स्थल पर लगाए गए थे। इस दंगल के दौरान गांव में नशे के खिलाफ जागरुकता अभियान चलाने की घोषणा भी की गई है।
गांव के समाजसेवी महाबीर सहारण ने इस दंगल को फिर से आरंभ करवाया है।

पायल को सम्मानित करते महाबीर सहारण

महाबीर ने कहा है कि उन्हें गांव के ग्रामीणों द्वारा इसके लिए सुझाव दिया गया था। गांव की नई पीढ़ी को सही रास्ते पर बनाए रखने के लिए खेल के अत्यंत उपयुक्त माध्यम् होता है। गांव में बेटियों के लिए वॉलीबाल खेल की कोचिंग आरंभ हो चुकी है। अन्य खेलांे के लिए भी गांव में शीघ्र ही कोचिंग आरंभ की जाएगी। उन्होंने कहा कि वे चाहते हैं कि गांव का हर बच्चा किसी ना किसी खेल को अवश्य अपनाए। गांव में खेल प्रतिभाओं की कमी नहीं है। ग्रामीणों का भी उन्हें पूरा सहयोग मिल रहा है। दंगल को लेकर जबरदस्त उत्साह रहा। दोनों वर्गों मंे पहले, दूसरे तथा तीसरे स्थान पर आने वाले पहलवानों को 5100 रुपए, 3100 रुपए तथा 2100 रुपए का पुरस्कार दिया गया।

ये रहे विनर
लड़कियों के वर्ग में फाइनल मुकाबला फरमाणा की पायल तथा अन्नू डराणा के बीच हुआ। इस कुश्ती को पायल फरमाणा ने जीता। लड़कों के वर्ग में तीसरी कुश्ती में भैणीचंद्रपाल के अतुल ने फरमाणा के सौरभ को हराया। जबकि दूसरी कुश्ती में भी भैणीचंद्रपाल के अभिषेक ने जसिया के रवि को हराया। पहली कुश्ती में अतुल भैणीचंद्रपाल विजयी रहे।
इन पहलवानों की याद में हुआ दंगल
महाबीर ने बताया कि उनके गांव में जागर पहलवान, पंडित मुन्नी पहलवान, हिम्मत पहलवान, मांगेराम, ठाकर सरूपा, काशीराम डाबला, चंदगीराम, इंद्र सिंह, पंडित हवा सिंह, दयाराम, आजाद सिंह, नेशा, डाला, महासिंह, शिवलाल, देइया, दुल्ली सैनी, वेद प्रकाश रंगा, पप्पा तथा हवा सिंह डाबला नामी पहलवान हुए हैं। जो अब इस दुनिया में नहीं हैं। इसके अतिरिक्त सूबे सिंह, ईश्वर मंदेरणा, हिम्मत फौजी तथा अनूप फौजी भी इस गांव के नामी पहलवान हैं। महाबीर की तरफ से पहलवानों तथा उनके परिजनांे को सम्मानित किया गया। इंदु दहिया/ 8053257789

24c न्यूज की खबरें ऐप पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें 24c न्यूज ऐप नीचे दिए लिंक से

Link: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.haryana.cnews

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

निंदाना की मेधावी छात्रा ने सीएम से पुरस्कार में मांगा गांव की समस्याओं का समाधान

रोहतक में मेधावी विद्यार्थी सम्मान समारोह में सीएम को दिया मांग पत्र महममहम चौबीसी के गांव निंदाना की एक...

हथियारों की वीडियो दिखा कर दी जान से मारने की धमकी

निंदाना के युवक पर आरोप महममहम चौबीसी विधान सभा क्षेत्र के गांव लाखनमाजरा के युवक को जान से मारने...

खेत से हुई किसान की बाइक चोरी

बहुअकबरपुर थाने में हुआ मामला दर्ज महममहम चौबीसी के गांव मोखरा के एक किसान की बाइक उसके खेत से...

स्वच्छता एवं पर्यावरण जागरुकता रैली निकाली

प्लास्टिक का प्रयोग नहीं करने का किया आह्वान महमराजकीय माध्यमिक विद्यालयए ईमलीगढ महम के विद्यार्थियों द्वारा स्वच्छता अभियान को...

Recent Comments

error: Content is protected !!