Home ब्रेकिंग न्यूज़ भारत में कृषि आजीविका है, व्यापार नही-चढूनी

भारत में कृषि आजीविका है, व्यापार नही-चढूनी

महम चौबीसी के अजायब गांव में हुई सर्वजातीय महापंचायत

भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने भारत मे कृषि आजीविका है, व्यापार नही। भारत की कृषि व्यवस्था की तुलना अमेरिका से नही की जा सकती। 

चढूनी रविवार को महम चौबीसी के गांव अजायब में आयोजित किसान महापंचायत में पहुंचे थे। यहां अपने सम्बोधन में चढूनी ने कहा कि हमें विश्वस्तर की कृषि व्यवस्था का सामना करना है। उन्होंने कहा कि तीन कृषि कानून किसान और कृषि को पूंजीपतियों के हाथों सौंपने की तैयारी है। यदि ऐसा हुआ तो देश की गरीब जनता भूखों मरने पर मजबूर हो जाएगी। उन्होंने कहा कि ये कानून देश की अर्थव्यवस्था को नष्ट कर देंगे। 

महम चौबीसी की तरफ से चढूनी को किसान का प्रतीक हल देकर सम्मानित किया गया। इस आयोजन में खाप प्रतिनिधियों ने भी भाग लिया।

आसपास की न्यूज के बारे में तुरंत जानने के लिए डाऊन लोड़ करे 24सी ऐप नीचे दिए लिंक से

Link: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.haryana.cnews

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

उजाला नगर से नशीला पदार्थ बेचता शख्स गिरफ्तार, हेरोइन बरामद

हरियाणा राज्य स्वापक नियंत्रण ब्यूरो, यूनिट हिसार ने किया गिरफ्तार महम, 3 फरवरी हरियाणा राज्य स्वापक नियंत्रण ब्यूरो, यूनिट...

शुक्रवार को महम में हुआ हीरामल जमाल का सांग

प्रदीप राय कर रहे हैं महम में सांग महम, 3 फरवरी महम में इन दिनों रविदास चैपाल के पास...

महम में हुई आम आदमी पार्टी कार्यकर्ता मिटिंग

डाॅ. अनूप कुमार ने किया कार्यकर्ताओं को संबोधित महम, 3 फरवरी महम के वार्ड दस के परसवाला मौहल्ला की...

परिजनों के सामने दो बाइक सवार छात्रा को ले भागे

पिता ने दी पुलिस को शिकायत महम, 3 फरवरी गांव सिंहपुरा कला से एक छात्रा को परिजनों की आंखों...

Recent Comments

error: Content is protected !!