Home खेल किसने कहा सैमाण की बेटियों का कोई मुकाबला नहीं? ओलंपिक खेल सकती...

किसने कहा सैमाण की बेटियों का कोई मुकाबला नहीं? ओलंपिक खेल सकती हैं सैमाण की बेटियां! एक मंच पर जमा हुई सैमाण की महान प्रतिभाएं! आयोजित हुआ एक शानदान कार्यक्रम

द्रोणाचार्य पुरस्कार अवार्डी प्रीतम सिवाच सहित कई प्रतिभाओं को किया सम्मानित

सैमाण के राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में आयोजित हुआ प्रतिभा सम्मान समारोह
महम

प्रसिद्ध हॉकी खिलाड़ी और हाल में ही द्रोणाचार्य सम्मान से नवाजी गई प्रीतम सिवाच अपनी ससुराल की बेटियों को देखकर हैरान रह गई। प्रीतम ने कहा कि ऐसी लड़कियां उन्हें मिल जाएं तो वे उन्हें अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी बना सकती हैं। इस वर्ष हुए ओलंपिक खेलों की महिला हॉकी में शानदार प्रदर्षन करने वाली भारतीय टीम में तीन खिलाड़ी प्रीतम सिचाच द्वारा प्रशिक्षित थी। प्रीतम ने कहा कि यहां लड़कियों का कद, इनकी शारीरिक क्षमता गजब की है। इन्हें पूरी सुविधा और वातावरण मिलना चाहिए। ऐसी मजबूत व प्रतिभावान लड़कियां अन्य कहीं कम ही मिलती हैं।
दरअसल प्रीतम सिवाच शनिवार को गांव सैमाण के राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में हुए उनके तथा अन्य प्रतिभाओं के सम्मान के आयोजित प्रतिभा सम्मान समारोह में भाग लेने आई थी। प्रीतम को द्रोणाचार्य पुरस्कार मिलने पर गांव की ओर से सम्मानित किया गया है।
प्रीतम ने वादा किया वे सुविधा और प्रशिक्षण दोनों देंगी
प्रीतम सिवाच ने अपने संबोधन में कहा कि जितना बड़ा मैदान यहां है, उतना बड़ा मैदान तो उनके पास भी नहीं है। यहां की बेटियों में जिस प्रकार की शारीरिक व मानसिक क्षमता है, ऐसी अन्य अधिकतर क्षेत्रों में नहीं है। उन्होंने आह्वान किया कि वे बेटियों को हरसंभव सुविधा व प्रशिक्षण में भी मदद करेंगी। प्रीतम की सोनीपत में खेल एकेडमी है।
ये है इस आयोजन का उद्देश्य
आयोजन समिति के सदस्य राजपाल सिवाच ने बताया कि इस आयोजन का उद्देश्य गांव के विद्यार्थियों को गांव की प्रतिभाओं से अवगत करवाना था। अपने से पूर्व के महान लोगों से प्रेरणा लेकर ही युवाओं ने अपनी प्रतिभा को आकार दिया है। यदि गांव के कुछ बच्चे भी इन प्रतिभाओं से प्रेरणा ले पाए तो उनके इस आयोजन का उद्देष्य सफल है।

इन्हें किया गया सम्मानित
सम्मान समारोह में खेल, शिक्षा, समाजसेवा तथा साहित्य आदि से जुड़ी गांव की खास हस्तियों को सम्मानित किया गया। इनमें प्रीतम सिवाच के अतिरिक्त न्यायाधीश धर्मपाल सिवाच, एचसीएस अमृता सिंह, आईपीएस दीपक, गांव मे पर्यावरण संरक्षण के लिए सैकड़ों पेड़ लगा चुके ग्रामीण रणधीर सिंह, साहित्यकार सुशीला जांगड़ा शामिल थे।
ये रहे मुख्य रूप से उपस्थित
पूर्व विधायक उमेद सिंह, हॉकी के पूर्व खिलाड़ी प्राचार्य भीम सिंह, पूर्व कुलसचिव प्रो. मनोज सिवाच, पूर्व सरपंच सूबे सिंह, प्रवीण कुमार, दलीप, चंद्र सिंह, डीईईई सुभाष, चंद्रकला, अजमेर सिवाच, सतीश सिवाच, नरेष कृष्ण व प्रदीप आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे। इंदु दहिया, 8053257789

आज की खबरें आज ही पढ़े
साथ ही जानें प्रतिदिन सामान्य ज्ञान के पांच नए प्रश्न
डाउनलोड करें, 24c न्यूज ऐप, नीचे दिए लिंक से

Link: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.haryana.cnews

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

महम में नई अनाजमंडी परिसर में हुआ रावण दहन

पंजाबी रामा क्लब से निकली श्रीराम व रावण की रथयात्रा महममहम में दशहरा पर्व बड़ी धूमधाम से बनाया गया।...

बुराई को अच्छाई से ही भगाया जा सकता है-महाबीर सहारण

गांव फरमाणा में मनाया गया दशहर पर्व महममहम चौबीसी के गांव फरमाणा में ग्रामीणों तथा बच्चों ने दशहरा पर्व...

बेस्ट कैचर शीलू बल्हारा को विधायक बलराज कुन्डू ने किया सम्मानित

वर्ल्ड कबड्डी कप कनाड़ा-2022 के बैस्ट कैचर चुने गए हैं शीलू बल्हारा महममहम के विधायक बलराज कुन्डू ने कबड्डी...

महम की रामलीलाओं में श्रीराम और रावण के युद्ध की घोषणा हो गई

बाली वध व रावण-अंगद संवाद का भी हुआ मंचन महममहम की रामलीलाएं अब अपने अंतिम पड़ाव की ओर बढ़...

Recent Comments

error: Content is protected !!