Home अपराध लगभग 40 घंटे में नेशनल हाईवे पर हुनमान मंदिर के सामने दूसरा...

लगभग 40 घंटे में नेशनल हाईवे पर हुनमान मंदिर के सामने दूसरा हादसा। फरमाणा के लगभग 26 वर्षीय युवक की मौत। खरकड़ा के ऑक्सन रिकार्डर की भी हादसे में मौत। फरमाणावासियों ने पुलिस पर लगाए लापरवाही के आरोप

खरकड़ा और फरमाणा के साथ समूचे महम चौबीसी में शोक की लहर

हनुमान मंदिर के सामने एक घंटे तक सड़क पर ही पड़ा रहा घायल, परिजनों का आरोप
खरकड़ा ने लगातार दूसरे दिन खोया लाल
महम

महम क्षेत्र में शोक की लहर है। एक साथ दो हादसों ने क्षेत्र को हिला कर रख दिया है। हादसों में दो युवकों की मौत हो गई। एक हादसा पेहवा के पास हुआ है जबकि दूसरा हादसा महम में ही नेशनल हाईवे के पास हुनमान मंदिर के सामने हुआ है। हनुमान मंदिर के सामने हुए हादसे में मृतक के परिजनों ने पुलिस पर लापरवाही बरतने के आरोप भी लगाए हैं।

प्रवीण (फाइल फोटो)

निजी बैंक के लिए काम करता था फरमाणा का युवक
हनुमान मंदिर के पास दोपहर बाद लगभग तीन बजे एक हादसा हुआ है। इस हादसे में फरमाणा खास के एक लगभग 26 वर्षीय युवक प्रवीण पुत्र महाबीर की मौत हो गई। प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रवीण एक निजी बैंक के लिए फिल्ड में काम करता था। वह रोहतक से महम की ओर लौट रहा था। हनुमान मंदिर के सामने वह अज्ञात वाहन की चपेट में आ गया।
मौके पर पहुंचे प्रवीण के परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने समय रहते प्रवीण को इलाज के लिए अस्पताल नहीं पहुंचाया। प्रवीण घायलावस्था में लगभग एक घंटे से तक मौके पर पड़ा रहा। लेकिन पुलिस ने घायल को इलाज के लिए नहीं भेजा। परिजनों ने ही मौके पर जाकर वाहन की व्यवस्था की और उसे पीजीआई लेकर गए। प्रवीण के परिजनों के साथ गए महाबीर सहारण ने बताया कि परिजनों के पहुंचने तक प्रवीण की सांसे चल रही थी। उसने रास्ते में दम तोड़ा है। पुलिस को तत्परता दिखानी चाहिए थी। इससे परिजनांे के साथ-साथ गांव में भी रोष है। हालांकि पुलिस का कहना है कि पुलिसकर्मी हादसा स्थल सूचना मिलते ही तुरंत पहुंच गए थे। एंबूलैस को भी फोन किया गया था। एंबूलैस जल्दी नहीं पहुंची। राहगिरों को रोक कर भी घायल को पीजीआई ले जाने के लिए कहा गया। किसी राहगिर ने अपना वाहन नहीं रोका। पुलिस ने इस मामले में कोई लापरवाही नहीं बरती।
दो बच्चे हैं प्रवीण के
प्रवीण एक गरीब परिवार से संबंध रखता था। उसके दो बच्चे हैं। बड़ा ढ़ाई साल का और छोटा केवल छह महीनें का है। प्रवीण की हादसे में मौत से परिवार पर दुःख का पहाड़ टूट गया है।

सुनील (फाइल फोटो)

ऑक्सन रिकार्डर की पेहवा के पास हुए हादसे में मौत
महम से संबंधित एक अन्य दुःखद हादसा पेहवा के पास हुआ है। खरकड़ा निवासी सुनील मार्केट कमेटी में आक्सन रिकार्डर के रूप में कार्य कर रहा था। सुनील का परिवार हॉल में महम में आबाद था। सुनील की ड्यूटी तो करनाल में थी। लेकिन 15 मई तक महम अनाजमंडी में डपूटेशन पर आया हुआ था।
वह अपनी मूल पोस्टिंग वाले स्थान पर गया हुआ था। वहां बाइक पर किसी काम से जा रहा था। पेहवा के पास हादसे में उसकी मौत हो गई।
15 मई की रात भी खरकड़ा के युवक की हादसे में हुई थी मौत
दुःखद है कि 15 मई की रात को भी खरकड़ा के एक युवक की हादसे में मौत हो गई थी। चौबीसी का यह गांव इस हादसे से ही नहीं उभर पाया था। एक और हादसे ने गांव में शोक को बढ़ा दिया। इंदु दहिया/ 8053257789

24c न्यूज की खबरें ऐप पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें 24c न्यूज ऐप नीचे दिए लिंक से

Link: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.haryana.cnews

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

पार्षद का छलका दर्द! नगरपालिका की व्यवस्था पर उठाए सवाल

वार्ड आठ के पार्षद विनोद कुमार ने पालिका सचिव को लिखा पत्र महममहम नगरपालिका में विवाद थमने का नाम...

आरकेपी मदीना में रामायण आधारित गतिविधियों का आयोजन हुआ

नर्सरी से 12वीं कक्षा तक के विद्यार्थियों ने किया प्रतिभा प्रदर्शन महमरामकृष्ण परमहंस वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, मदीना में साप्ताहिक...

सफलता के लिए विषय का गहन अध्ययन जरूरी-डॉ राजेश मोहन

आर्य सीनियर सेकेंडरी स्कूल मदीना में विद्यार्थियों को सम्बोधित किया महममहम चौबीसी के भराण निवासी आईपीएस अधिकारी डॉ राजेश...

सरकार का काम गरीबों के मकान बनवाना होता है तुड़वाना नहीं – बलराज कुंडू

सिंहपुरा में ग्रामीणों से मिले विधायक कुंडू महमविधायक बलराज कुंडू आज गांव सिंहपुरा कलां पहुंचे और दलित बस्ती में...

Recent Comments

error: Content is protected !!