Home ब्रेकिंग न्यूज़ पालिका प्रधान के दोबारा ड्रा ने फिर बढ़ाई महमवासियों की धड़कनें, आस...

पालिका प्रधान के दोबारा ड्रा ने फिर बढ़ाई महमवासियों की धड़कनें, आस छोड़ चुके प्रत्याशियों की उम्मीदें जगी, जो चुनाव की तैयारी में जुटे थे, हो गए बेचैन!-24c न्यूज विशेष

22 सितंबर को फिर से हो रहा है पालिका चुनावों के लिए ड्रा

महम का पालिका प्रधान अनुसूचित जाति की महिला के लिए हो चुका था आरक्षित
चुनावों के लिए सरगर्मियां थी तेज, पार्टियां बदलने का दौर हो चुका था शुरु
इंदु दहिया

राज्य में 45 नगरपरिषदों तथा पालिकाओं के प्रधान पद के आरक्षण फिर से किए जाने की घोषणा हो गई है। महम भी इनमें से एक है। 22 जून को निकाले गए ड्रा में महम का प्रधान पद अनुसूचित जाति की महिला के लिए आरक्षित हो गया था। अब 22 सितंबर को फिर से फिर से ड्रा होगा। पता नहीं ऊंट किस करवट बैठेगा।
लग चुकी थी सपनों की उड़ान
पालिका प्रधान का पद अनुसूचित जाति की महिला के लिए आरक्षित होते ही जहां चुनाव की तैयारी कर रहे सामान्य वर्ग के प्रत्याशी शांत हो गए थे। वहीं अनुसूचित जाति के प्रत्याशी मैदान में सक्रिय थे। भाजपा नेता मीना बाल्मीकि, गीता वाल्मीकि सहित भाजपा व अन्य दलों से संबंध रखने वाले लगभग दस प्रत्याशी मैदान में सक्रिय थे। मीना व गीता के अतिरिक्त जिन नामों की महम में चर्चा थी उनमें राकेश चावरियां, अनिल चावरियां, बंटी सिंहमार, जगबीर बहमणी, फतेह सिंह पवारव रमेश खटीक आदि के परिवारों से महिला प्रत्याशियों की चर्चा थी।
इनमें से कुछ हालातों के उनके पक्ष में होने का इंतजार कर रहे थे तो कुछ ने अपनी उम्मीद्वारी की घोषणा कर, चुनाव की तैयारी आरंभ भी कर दी थी।
राजनीतिक दल हो गए हैं सक्रिय
महम के पालिका चुनावों को लेकर राजनीतिक दल सक्रिय हो चुके हैं। भाजपा मुख्य चुनाव समिति की बैठक कर चुकी है। वहीं कांग्रेस विधायक आनंद सिंह दांगी के नेतृत्व में जनसंपर्क अभियान चला रही है। विधायक बलराज कुन्डू भी अपने समर्थकों के साथ पालिका चुनावों के सक्रिय हो गए हैं। इसके अतिरिक्त अन्य दलों और राजनीतिक प्रभावों के व्यक्तियों ने अपनी-अपनी पसंद के प्रत्याशियों की खोज आरंभ कर दी थी।
बदलने लगी थी आस्थाएं
प्रधान बनने के लालसा में राजनीतिक कार्यकर्ताओं की आस्थाएं बदलने लगी थी। अनुसूचित जाति के कुछ प्रत्याशी राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं से मिलकर अपनी गोटियां फिट करने लगे थे। कुछ के द्वारा एक से ज्यादा पाटियों से संपर्क करने का प्रयास किया जा रहा था। पालिका चुनावों के चलते दलों के छोड़ने और शामिल होने का सिलसिला भी आरंभ हो गया था।
बदलाव हुआ तो बदलनी होगी रणनीति
22 सितंबर को ड्रा के बाद यदि प्रधान पद के लिए आरक्षण में बदलाव हुआ तो दलों को अपनी रणनीति भी बदलनी पड़ेगी। फिलहाल अनुसूचित जाति की महिला प्रत्याशी को लेकर नीति बनाई जा रही थी। उसी आधार पर अपनी-अपनी पसंद और प्रभावानुसार प्रत्याशियों की तलाश थी। अनुुसूचित जाति के अंदर की जातियों के आधार पर समीकरण बनाए जा रहे थ। अगर बदलाव हुआ तो नए सिरे से रणनीति तय करनी होगी।
फिर से जग गई आस
पालिका प्रधान पद के लिए सीधे चुनाव की घोषणा के बाद महम में सामान्य वर्ग के कई नाम सक्रिय थे। जनसेवा समिति के प्रदेशाध्यक्ष बसंत लाल गिरधर ने तो जनसंपर्क अभियान भी आरंभ कर दिया था, लेकिन 22 जून के बाद सामान्य वर्ग के प्रत्याशियों के नामों की चर्चा पर विराम लग गया था।
अब एक बार फिर से आस जग गई है। कम से कम 22 सितंबर तक चर्चाओं, कयासों और आशाओं को जबरदस्त दौर रहेगा। वहीं इन दिनों में चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे अनुसूचित जाति के प्रत्याशी भी चुप ही रहेंगे।
बहरहाल 22 सितंबर तक फिर से धड़कनों के तेज रहने का समय रहेगा। इंतजार करिए!24सी न्यूज 8053257789

आज की खबरें आज ही पढ़े
साथ ही जानें प्रतिदिन सामान्य ज्ञान के पांच नए प्रश्न तथा जीवनमंत्र की अतिसुंदर कहानी
डाउनलोड करें, 24c न्यूज ऐप, नीचे दिए लिंक से

Link: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.haryana.cnews

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

’वाटर बम’ बन सकती है महम ड्रेन, क्षमता से तीन गुणा है ड्रेन में पानी

टूटने से बचाना है तो लिफ्ट या कंकरीट की दीवारें बनानी ही होंगी ढलान कम होने के कारण बार-बार...

100 से अधिक नागरिकों की हुई निःशुल्क हृदय जांच

रामगोपाल सामान्य एवं जनाना अस्पताल में लगाया शिविर महममहम में पंचायती रामलीला मैदान के सामने स्थित रामगोपाल सामान्य एवं...

सांसद रामचंद्र जांगड़ा ने किया सैमाण व बेडवा के खेतों का दौरा

अधिकारियों को दिए खेतों से बारिश के पानी की जल्द निकासी के निर्देंश महमराज्यसभा सांसद रामचंद्र जांगड़ा ने सोमवार...

बसपा ने चिराग योजना के विरोध में किया प्रदर्शन

नायब तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन महममहम हलके के बसपा कार्यकर्ताओं ने सोमवार को चिराग योजना के विरोध में प्रदर्शन...

Recent Comments

error: Content is protected !!