Home जीवनमंत्र रेगिस्तान में भटके व्यक्ति को कैसे मिला पानी? जीवनमंत्र 24c

रेगिस्तान में भटके व्यक्ति को कैसे मिला पानी? जीवनमंत्र 24c

धैर्य और विश्वास रखने से हर समस्या का समाधान सम्भव

एक बार एक व्यक्ति रेगिस्तान में भटक गया। उसे भयंकर प्यास लगी थी। लगता था आज उसकी मौत निश्चित है। तभी उसे एक झोंपड़ी दिखाई दी।

वह जैसे तैसे झोंपड़ी तक पहुंचा तो देखा कि झोपड़ी में एक हैंडपम्प लगा है।

पर ये क्या? हैंडपम्प से पानी नहीं आ रहा था। 

तभी उसे झोपड़ी में एक पानी से भरी बोतल दिखाई दी। बोतल पर एक पर्ची चिपकी थी, जिसपर लिखा था। इस पानी को पिएं ना। इस पानी को हैंडपम्प में डाल कर हैंडपम्प को चलाएं। 

व्यक्ति असमंजस में था। कहीं पानी डालने के बाद भी हैंडपम्प ना चले, तो वह तो प्यास से मर ही जायेगा। सोच रहा था कि पानी को पिए या हैंडपम्प में डाले। 

आखिर उसने पानी को हैंडपम्प में ही डाल दिया।हैंडपम्प को चलाया, तो शीतल जल निकल आया। 

व्यक्ति ने प्यास बुझाई औऱ बोतल में फिर से पानी भरा और वहीं रख दिया। वह व्यक्ति जब झोंपड़ी से निकलने लगा तो उसे एक कॉपी और कागज़ दिखा।

इस बार उस रेगिस्तान से निकलने के रास्ते का मैप था।व्यक्ति खुश हुआ और खुद भी लिखा’यहाँ जो लिखा है सब सत्य है।’

धैर्य और विश्वास रखने से हर समस्या का समाधान सम्भव है।

गुजवि के पूर्व कुलसचिव वरिष्ठ प्रो. हरभजन बंसल की फेसबुक वॉल से सभार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

निंदाना में लगे भंडारे में पहुँचे आम आदमी पार्टी के नेता

टीन शेड का हुआ उद्घाटन महम, 4 फरवरी महम के निंदाना गांव में दादा डहरी वाला मंदिर में विशाल...

रविदास जयंती पर निकाली शोभायात्रा

गांव भैणी सुरजन में हुआ आयोजन महम, 4 फरवरी गांव भैणी सुरजन में संत शिरोमणि गुरु रविदास जी महाराज...

पुत्रियों पर पिता की हत्या का आरोप, 26 जनवरी को हुई थी भैणीमातो के कर्मबीर की मौत

मृतक के भाई के बयान पर हुआ मामला दर्ज महम, 4 फरवरीगांव भैणीमातो के कर्मबीर की मौत के मामले...

स्वामी सत्यपति परिव्राजक की पुण्यतिथि पर फरमाणा होगा कार्यक्रम

आर्य सन्यासी स्वामी मुक्तिवेश रहेंगे मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित महम, 4 फरवरी स्वामी सत्यपति परिव्राजक की पुण्यतिथि...

Recent Comments

error: Content is protected !!