Home ब्रेकिंग न्यूज़ महम में कहां है 89 साल पुराना बारादरी जनाना घाट? 24c शनिवार...

महम में कहां है 89 साल पुराना बारादरी जनाना घाट? 24c शनिवार विशेष

महम की ‘ऐतिहासिक झलक’ श्रृखंला का भाग दो

किसने बनाया था यह घाट?
सुरक्षित है घाट पर लगा पत्थर

महम के एक ऐतिहासिक तालाब पर एक सुंदर बारादरी जनाना घाट बना था। वक्त की गर्दिश ने घाट को तो खंड्हर में बदल दिया, लेकिन 89 साल भी घाट को बनाने वाले का नाम नहीं मिटा पाए। गंदगी और विरानी के बीच, घाट पर लगे पत्थर ने इस नाम को आज भी सहेज कर रखा हुआ है।
महम की ऐतिहासिक झलक श्रृंखला के दूसरे भाग में आज 24सी न्यूज आपकों यह घाट भी दिख रहा है और वह पत्थरभी पर जिस पर सुरक्षित है इसके तामीरदार का नाम।
महम केे पुराने बस स्टैंड के पास स्थित जलभरत तालाब प्रदेश के ऐतिहासिक तालाबों में से एक है। इस तालाब और इसके परिसर का अपना एक शानदार इतिहास है, लेकिन आज आपको केवल उस घाट के बारे में बता रहे हैं, जहां महिलाएं स्नान के लिए आती थी। यह घाट जलभरत तलाब के पितरु वाले कुएं के ठीक पीछे बना है। जो अब लगभग खंड्हर में तबदील हो चुका है।

इस पत्थर पर सुरक्षित है घाट बनाने वाले का नाम

ये लिखा है पत्थर पर
घाट के पत्थर पर लिखा है, बारादरीमय घाट जनाना तामिरकरदा लाला कुंदन लाल उर्फ चेला वल्द लाला शंकर लाल वैश्य अग्रवाल मारूफ भवानीदत्त के सम्वत् 1988। अब सम्वत् 2077 है।
साफ है यह घाट लाला कुदनलाल उर्फ चेला नाम के किसी वैश्य अग्रवाल ने बनवाया था। घाट के चारों और 12 खंभ का बरामदा था, इसीलिए घाट को बारादरीमय घाट का नाम दिया गया।
अब क्या है स्थिति?
अब इस ऐतिहासिक धरोहर की स्थिति अत्यंत दयनीय है। घाट और बरामदों की छतों की कड़ियां तक उखाड़ ली गई हैं। चूने में बनी अत्यंत मजबूत दीवारें भी ढहने लगी हैं। बहुत अधिक गंदगी फैली है, आसपास झाड़ियां उगी हैं।
दर्शनीय था यह घाट
वरिष्ठ नागरिक शिवराज गोयत ने बताया कि यह घाट बहुत ही सुंदर था। यहां वे खेलते थे। महम के किसी भी तालाब पर इससे सुंदर घाट नहीं था। शरारती तत्वों ने घाट की कड़ियां उनके समय में ही उखाड़नी शुरु कर दी थी। अगर इस ओर ध्यान नहीं दिया गया तो शीघ्र ही यह ऐतिहासिक धरोहर पूर्णतया नष्ट हो जाएगी।

पितरु वाले कुएं के पीछे बनी है बारहदरी

कामेन्ट बॉक्स में जाकर खबर के संबंध में अपनी प्रतिक्रिया अवश्य दें
अपनी प्रतिक्रिया आप व्हाटसेप नम्बर 8053257789 पर भी दे सकतें हैं
अगर आपके पास भी कोई ऐतिहासिक जानकारी है तो अवश्य सांझा करें तथा ऐतिहासिक खबरें पढ़ने के लिए डाऊन लोड करे

Download 24C News app : https://play.google.com/store/apps/details?id=com.haryana.cnews 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

निंदाना की मेधावी छात्रा ने सीएम से पुरस्कार में मांगा गांव की समस्याओं का समाधान

रोहतक में मेधावी विद्यार्थी सम्मान समारोह में सीएम को दिया मांग पत्र महममहम चौबीसी के गांव निंदाना की एक...

हथियारों की वीडियो दिखा कर दी जान से मारने की धमकी

निंदाना के युवक पर आरोप महममहम चौबीसी विधान सभा क्षेत्र के गांव लाखनमाजरा के युवक को जान से मारने...

खेत से हुई किसान की बाइक चोरी

बहुअकबरपुर थाने में हुआ मामला दर्ज महममहम चौबीसी के गांव मोखरा के एक किसान की बाइक उसके खेत से...

स्वच्छता एवं पर्यावरण जागरुकता रैली निकाली

प्लास्टिक का प्रयोग नहीं करने का किया आह्वान महमराजकीय माध्यमिक विद्यालयए ईमलीगढ महम के विद्यार्थियों द्वारा स्वच्छता अभियान को...

Recent Comments

error: Content is protected !!